परिचय

हिन्दी
Image: 

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के बारे में

.L23201MH1952GOI008858

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) का गठन 15 जुलाई, 1974   को किया गया था। कंपनी का  सीआइएन नंबर L23201MH1952GOI008858 है। एचपीसीएल एक महारत्न केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम (सीपीएसई) है तथा एसएवंपी प्‍लैटस टॉप 250 ग्लोबल एनर्जी कंपनी में 55वीं रैंकिंग पर है जिसकी वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान वार्षिक सकल बिक्री 2,86,250 करोड़ रुपये है। .

भारत में 18% से अधिक विपणन हिस्‍सेदारी है और राष्‍ट्र के पेट्रोलियम उत्पादों की रिफाइनिंग और विपणन में एचपीसीएल की मजबूत पकड़ है। वर्ष 2019-20 के दौरान एचपीसीएल ने कर पश्चात मुनाफा (पीएटी) रुपए 2,637 करोड़ का रिकार्ड दर्ज किया है।

एचपीसीएल के पास मुंबई (पश्चिमी तट) और विशाखापत्तनम (पूर्वी तट) में अपनी स्वामित्व की रिफाइनरियां हैं जिनका प्रचालन करता है। इसकी डिज़ाइन क्षमता क्रमश: 7.5 एमएमटीपीए (मिलियन मैट्रिक टन प्रति वर्ष) और 8.3 एमएमटीपीए (मिलियन मैट्रिक टन प्रति वर्ष) है। ल्यूब ऑयल बेस स्टॉक का उत्पादन करने के लिए मुंबई में एचपीसीएल की स्वामित्व की 428 टीएमटीपीए की क्षमतावाली राष्ट्र की सबसे बड़ी ल्यूब रिफाइनरी है।
एचपीसीएल की संयुक्त उद्यम कंपनी एचपीसीएल-मित्तल एनर्जी लिमिटेड (एचएमईएल) में 48.99% की इक्विटी स्टेक हिस्सेधारी है जो भटिंडा (पंजाब) में 11.3 एमएमटीपीए क्षमता वाली रिफाइनरी संचालित करती है और मैंगलोर रिफ़ाइनरी एण्ड पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड (एमआरपीएल) में भी 16.96% की इक्विटी स्टेक हिस्सेदारी है जो मैंगलोर (कर्नाटक) में 15 एमएमटीपीए क्षमता वाली रिफाइनरी संचालित करती है।

एचपीसीएल का एक विशाल विपणन नेटवर्क है जिसमें प्रमुख शहरों में 14 अंचल कार्यालय हैं और 133 क्षेत्रीय कार्यालय हैं, इसमें आपूर्ति एवं वितरण संरचना के अंतर्गत 43 टर्मिनल/टीओपी/इंस्टालेशन, 44 विमानन ईंधन स्टेशन, 50 एलपीजी बॉटलिंग संयंत्र एवं 68 डिपो इनलैंड रिले/ल्यूब डिपो शामिल हैं। ग्राहक टच पॉइंट्स में 16,868 रिटेल आउटलेट, 1,638 एसकेओ/एलडीओ डीलर एवं 6,137 एलपीजी डिस्‍ट्रीब्‍यूटरशिप, 115 ढुलाई एवं अग्रेषण (कैरिंग/फॉर्वर्डिंग) एजेंट, 8.4 करोड़ से अधिक घरेलू एलपीजी उपभोक्ताओं के ग्राहक आधार सहित 253 ल्यूब डिस्‍ट्रीब्‍यूटरशिप हैं।

एचपीसीएल के पास 3,775 किमी लंबी पाइपलाइन नेटवर्क के साथ भारत में दूसरा सबसे बड़ा उत्पाद पाइपलाइन है।

एचपीसीएल अपने पूर्ण स्वामित्व की सहायक कंपनी मेसर्स प्राइज़ पेट्रोलियम कंपनी लिमिटेड (पीपीसीएल) के माध्यम से हाइड्रोकार्बन का अन्वेषण एवं उत्पादन (ईएवंपी) करता है। एचपीसीएल 19 संयुक्त उद्यम (जेवी) एवं सहायिकी कंपनियों के द्वारा भी व्यापार संचालित करता है जो तेल एवं गैस वैल्यू चैन में परिचालित होती है।

संपूर्ण भारत में 9,800 से अधिक कार्यरत कर्मचारियों की अत्यधिक प्रेरित कार्यबल द्वारा विभिन्न रिफाइनिंग एवं मार्केटिंग कार्यस्थलों में निरंतर उत्कृष्ट प्रदर्शन संभव हो पाया है।

एचपीसीएल पर्यावरण संरक्षण, संधारणीय विकास, सुरक्षित कार्यस्थल तथा कर्मचारियों, ग्राहकों और समुदाय के जीवन की गुणवत्ता संवर्धन के उद्देश्य के साथ व्यापार का संचालन करने हेतु प्रतिबद्ध है।

एचपीसीएल में निगम सामाजिक दायित्व (सीएसआर) विभाग सामाजिक विकास के प्रति कॉर्पोरेशन की ओर से निरंतर प्रतिबद्ध है। एचपीसीएल का मुख्‍य फोकस शिशु देखभाल, शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य, कौशल एवं समुदाय विकास की दिशा में तथा समाज के पिछडे एवं निम्‍न वर्गों के जीवन के उत्‍थान में रहा है। वर्ष 2019-20 के दौरान सीएसआर गतिविधियों के लिए कुल रुपये 182 करोड़ की राशि खर्च की गई।

पंजीकृत कार्यालय और कॉर्पोरेट मुख्यालय

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड।
पेट्रोलियम हाउस,
17, जमशेदजी टाटा रोड,
मुंबई- 400020।
महाराष्ट्र, भारत।

ईमेल: -corphqo (at) hpcl [dot] in

विपणन मुख्यालय

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड।
हिन्दुस्तान भवन,
8, शूरजी वल्लभदास मार्ग,
बेलार्ड एस्टेट,
मुंबई - 400001
महाराष्ट्र, भारत।
ई-मेल: mktghqo(at)hpcl[dot]co[dot]in


अन्य कार्यालय